"An initiative of Govt. of India under the Nirbhaya funds scheme for ensuring safety of women and children"



आपातकालीन प्रतिक्रिया सहायता प्रणाली (ईआरएसएस) आपात स्थिति में नागरिकों के लिए समस्त भारत के लिए एकल संख्या (112) आधारित आपातकालीन प्रतिक्रिया प्रणाली है। आपातकालीन संदेशों को संभालने के लिए प्रत्येक राज्य / केंद्र शासित प्रदेशों में एक आपातकालीन प्रतिक्रिया केंद्र (ईआरसी) को स्थापित करने की आवश्यकता होती है। अगर आपको पुलिस, अग्नि शमन , स्वास्थ्य और अन्य सेवाओं से आपातकालीन सहायता की आवश्यकता है, तो आप यह कर सकते हैं:

  1. अपने फोन से 112 डायल करें;
  2. पैनिक बटन को सक्रिय करने के लिए 3 बार अपने स्मार्ट फोन पर पावर बटन दबाएं;
  3. फीचर फोन के मामले में, पैनिक बटन को सक्रिय करने के लिए '5' या '9' का बटन दबाएं;
  4. राज्य की ईआरएसएस वेबसाइट पर लॉग ऑन करें और अपना एसओएस संदेश दें;
  5. राज्य ईआरसी को ईमेल द्वारा एसओएस संदेश दें
  6. ईआरसी को एक तत्काल संदेश भेजने के लिए 112 इंडिया मोबाइल ऐप (Google Playstore और Apple Store में उपलब्ध) का उपयोग करें।

* महिलाओं और बच्चों के मामले में, आप SHOUT सुविधा को उपयोग करने के लिए 112 इंडिया मोबाइल ऐप का उपयोग कर सकते हैं, जो ईआरसी को सूचित करने के अलावा तत्काल सहायता के लिए पंजीकृत स्वयंसेवकों को अलर्ट करता है।

यह एक इमरजेंसी सुविधा है।.
उपयोगकर्ताओं को इस सेवा का सावधानी से उपयोग करने की सलाह दी जाती है।.